कर्ज चुकाने के लिए युवक ने रची खुद के अपहरण की साजिश, गिरफ्तार

Ghaziabad News : गाजियाबाद के मुरादनगर में एक युवक ने कर्ज चुकाने के लिए खुद के ही अपहरण की झूठी साजिश रच डाली। इतना ही नहीं युवक ने खुद ही अपहरणकर्ता बनकर अपने पिता को फोन किया और दस लाख की फिरौती मांगी। देर शाम पुलिस ने युवक को दुहाई से सकुशल बरामद कर अपहरण की झूठी घटना का पर्दाफाश कर दिया। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर युवक को गिरफ्तार कर लिया है।
मुरादनगर थानाक्षेत्र के गांव जलालाबाद के अजय कुमार कपड़ा व्यापारी हैं। घर में पत्नी सुनीता देवी व 32 वर्षीय बेटे राहुल कुमार के साथ रहते हैं। राहुल शादीशुदा हैं और उनके दो बच्चे हैं। राहुल मिनी ट्रक चलाने का काम करते हैं। रविवार सुबह राहुल अपनी होंडा सिटी कार से बाजार गए थे, लेकिन दोपहर तक भी वापस नहीं लौटे। इस दौरान करीब एक बजे कपड़ा व्यापारी अजय के मोबाइल पर राहुल के नंबर से काॅल आई। काॅल उठाई तो सामने से आवाज आई कि राहुल का अपहरण हो चुका है और वह हमारे कब्जे में है। यदि राहुल की सलामती चाहते हो तो 10 लाख का इंतजाम कर लो। इतना सुनकर कपड़ा व्यापारी अजय के पैरों तले जमीन खिसक गई। उन्होंने राहुल के नंबर पर काॅल की तो सामने से कहा कि अपनी तरफ से फोन किया या पुलिस को सूचना दी तो राहुल की हत्या कर देंगे। इस घटना के बाद राहुल के परिजनों में हड़कंप मच गया। जिसके बाद राहुल के पिता अजय ने तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी।
राहुल की तलाश के लिए पुलिस की चार टीमों का किया गया गठन:
कपड़ा व्यापारी के बेटे के अपहरण व दस लाख की फिरौती मांगे जाने की सूचना मिलते पुलिस के आला अधिकारियों ने तुरंत चार टीमें गठित की। इलेक्ट्राॅनिक सर्विलांस व मेनुअल इनपुट की मदद से पुलिस राहुल की तलाश में जुट गई। उसकी काॅल डिटेल्स निकलवाई गई तो प्रथम दृष्टया मामला संदिग्ध प्रतीत हुआ। शाम करीब साढ़े छह बजे राहुल के मोबाइल की लोकेशन दुहाई के पास मिली। पुलिस मौके पर पहुंची तो राहुल अपनी कार में बैठा मिला। पुलिस उसे तुरंत पकड़कर थाने ले आई।
क्राइम पेट्रोल सीरियल देखकर रची खुद के अपरहण की साजिश:
पुलिस पूछताछ के दौरान राहुल ने बताया कि उस पर करीब आठ लाख रुपये का कर्ज है। कर्जदार लगातार परेशान कर रहे हैं। पिता से रुपये मांगे थे, लेकिन उन्होंने देने से मना कर दिया। राहुल ने बताया कि कुछ दिन पहले क्राइम पेट्रोल सीरियल देखकर उसे खुद के अपरहण की साजिश रचने का विचार आया। जिसके बाद रविवार को राहुल ने अपने खुद के अपहरण की झूठी साजिश रच डाली और अपने पिता से दस लाख की फिरौती की मांग की।
अधिकारी कथन:
कपड़ा व्यापारी के बेटे राहुल को बरामद कर लिया गया है। उसने खुद के अपहरण की झूठी सूचना देने की बात कबूली है। जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर उसकी कार व मोबाइल को कब्जे में ले लिया गया है।
नरेश कुमार, एसीपी मसूरी सर्किल।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *