महिला ने एंबुलेंस में दिया बेटे को जन्म

Ghaziabad News : मुरादनगर के गांव मिलक चाकरपुर निवासी एक गर्भवती महिला ने प्रसव के लिए अस्पताल जाते वक्त रास्ते में ही एंबुलेंस में एक बेटे को जन्म दिया। रास्ते में प्रसव पीड़ा बढ़ जाने के कारण एंबुलेंस में तैनात ईएमटी ने डिलीवरी कराई।
मिली जानकारी के अनुसार गांव मिलक चाकरपुर निवासी सत्तार अहमद की पत्नी फरजाना को शनिवार देर रात प्रसव पीड़ा हुई। जिसके बाद सत्तार ने हॉस्पिटल आने के लिए रात 12.30 बजे एंबुलेंस के लिए 102 पर कॉल किया। सूचना मिलने पर मुरादनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर मौजूद एंबुलेंस गांव मिलक चाकरपुर पहुंची और फरजाना को लेकर सीएचसी मुरादनगर के लिए निकली। जब एंबुलेंस फरजाना को लेकर थोड़ी दूर बाद गांव नबीपुर के समीप पहुंची तो फरजाना को अत्याधिक प्रसव पीड़ा बढ़ गई। जबकि अस्पताल अभी करीब 5 किमी की दूरी पर था। मामले की गंभीरता को देखते हुए एंबुलेंस पर तैनात ईएमटी शहनवाज खान ने एंबुलेंस चालक जितेंद्र कुमार को एंबुलेंस सड़क किनारे रोकने के लिए कहा। एंबुलेंस साइड में लगाने के बाद ईएमटी शहनावाज ने एम्बुलेंस में उपलब्ध डिलीवरी किट की मदद से सुरक्षित प्रसव कराया। फरजाना ने एक बेटे को जन्म दिया है। उनके पहले से एक बेटी है। जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। जिन्हें प्रसव बाद सीएचसी मुरादनगर में भर्ती कराया गया। ईंट भट्ठे पर मजदूरी करने वाले सत्तार व उसके परिजनों ने एंबुलेंस कर्मचारियों की सराहना की है। एंबुलेंस सेवा के प्रोग्राम मैनेजर जयविंदर सिंह ने बताया की कर्मचारियों के इस सराहनीय कार्य के लिए उन्हें सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि घने कोहरे व धूंध के बावजूद भी एंबुलेंस कर्मचारी सूचना मिलते ही समय से मौके पर पहुंचकर जनता की सेवा कर रहे हैं। जोकि तारिफ के काबिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *