जिस युवक की हुई हत्या, उसके जिंदा व पाकिस्तान की जेल में बंद होने का किया दावा

तेजवीर उर्फ जोनी की फाइल फोटो

Ghaziabad (Deepak Sain) : मुरादनगर थानाक्षेत्र के गांव नेकपुर निवासी युवक की हत्या के मामले में डेढ़ साल से जेल में बंद हत्यारोपियों के परिजनों ने मृतक के जिंदा होने एवं उसके पाकिस्तान की लाहौर जेल में बंद होने का दावा किया है। इस मामले में मृतक युवक का डीएनए सैंपल उसके पिता एवं भाई के डीएनए सैंपल से मिलान नहीं होने पर कोर्ट ने वादी पक्ष को न्यायालय में तलाब भी किया है। यह घटना क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है।
बता दें कि गत 12 अगस्त 2022 को मुरादनगर थानाक्षेत्र के गांव डिडौली स्थित नाले में एक युवक का शव बरामद हुआ था। उस समय शव की शिनाख्त नहीं हो पाने के कारण पुलिस ने शव का लावारिस के रूप में अंतिम संस्कार कर दिया था, लेकिन शिनाख्त के लिए मृतक के कपड़े एवं डीएनए सैंपल के लिए मृतक युवक का दांत सुरक्षित रख लिया था। कुछ दिन बाद गांव नेकरपुर साबितनगर निवासी व्यक्ति तेजपाल ने कपड़े देखकर मृतक युवक की पहचान अपने लापता पुत्र तेजवीर उर्फ जोनी के रूप में की। जिसके बाद तेजपाल ने अपने ही गांव नेकपुर साबितनगर निवासी सतीश उर्फ लीलू एवं सतेंद्र उर्फ पप्पू के अलावा उनके रिश्तेदार गौरव एवं बिट्टू उर्फ प्रदीप निवासी ग्राम चमरावल थाना चांदीनगर जिला बागपत के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई। तहरीर देते वक्त मृतक के पिता तेजपाल ने पुलिस को बताया कि सतीश और सतेंद्र ने उनके बेटे तेजवीर उर्फ जोनी को गांव चमरावल निवासी उनके रिश्तेदार गौरव एवं बिट्टू की डेयरी पर नौकरी लगवाने के नाम पर भेजा था। जहां से वो लापता हो गया था।
मुरादनगर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच को थाना चांदीनगर को किया ट्रांसफर :
हत्या के मामले में घटना स्थल चांदीनगर थानाक्षेत्र पाए जाने के कारण मुरादनगर पुलिस ने हत्या के इस मामले में चारों हत्यारोपियों को गिरफ्तार करते हुए जांच बागपत जिले के चांदीनगर थाना पुलिस को ट्रांसफर कर दी। तभी से चारों हत्यारोपी बागपत जिले की जेल में बंद हैं और मामला बागपत जिला न्यायालय में विचाराधीन है।
हत्यारोपियों के परिजनों का दावा मृतक तेजवीर उर्फ जोनी पाकिस्तान की जेल में है बंद :
तेजवीर उर्फ जोनी की हत्या के मामले में जेल में बंद गांव नेकपुर साबितनगर निवासी सतीश एवं सतेंद्र के चचेरे भाई अमित त्यागी ने दावा किया है कि तेजवीर उर्फ जोनी जिंदा है और वह पाकिस्तान की लाहौर जेल में बंद है। अमित का कहना है पाकिस्तान सरकार से इसकी सूचना भारत सरकार को दिए जाने के बाद कुछ समय पहले उनके गांव में तेजवीर उर्फ जोनी को लेकर जांच पड़ताल करने खुफिया विभाग के अधिकारी स्थानीय पुलिस के साथ पहुंचे थे। जहां पर उन्होंने तेजवीर उर्फ जोनी के बारे में जानकारी जुटाई थी।
मृतक के डीएनए सैंपल का पिता एवं भाई के डीएनए सैंपल से नहीं हुआ मिलान :
हत्या के मामले में जेल में बंद सतीश एवं सतेंद्र के अधिवक्त अनिल चैधरी ने बताया कि हत्या के इस मामले में बागपत की कोर्ट में बुधवार को तारिख थी। इस दौरान फोरेंसिक विभाग द्वारा कोर्ट में मृतक तेजवीर उर्फ जोनी के डीएनए सैंपल की उनके पिता तेजपाल एवं भाई के डीएनए सैंपल से मिलान की रिपोर्ट पेश की। अधिवक्ता अनिल चैधरी का कहना है कि मृतक एवं उसके पिता और भाई के डीएनए सैंपल का मिलान नहीं हो पाया है। जिसके चलते कोर्ट ने आगामी 27 फरवरी भी वादी पक्ष को न्यायालय में तलब किया है।
अधिकारी कथन :
मृतक के जिंदा होने एवं उसके पाकिस्तान की जेल में बंद होने का दावा करने वाला पक्ष यदि को साक्ष्य उपलब्ध कराता है तो उसकी जांच कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।
विवेक चंद यादव, डीसीपी ग्रामीण गाजियाबाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *