चालान कट जाने के बाद हरकत में आई पुलिस ने 13 दिन बाद की बाइक चोरी की रिपोर्ट दर्ज

Ghaziabad News : मुरादनगर शहर की ब्रजविहार काॅलोनी से 5 फरवरी की शाम घर के बाहर खड़ी चोरी हुई बाइक का 11 दिन बाद पुलिस पहले तो चालान काटती है, फिर चोरी हुई बाइक का चालान काटे जाने का मामला संज्ञान में आने पर मुरादनगर थाना पुलिस हरकत में आती है और बाइक चोरी की रिपोर्ट दर्ज करती है। जबकि पीड़ित पिछले 13 दिनों से अपनी बाइक चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए स्थानीय चौकी एवं थाने के चक्कर काट रहा था।
ब्रजविहार काॅलोनी में दीपक सरना अपने परिवार के साथ रहते हैं। दीपक ने बताया कि 5 फरवरी की शाम जब वह अपने काम से घर वापस आए तो उन्होंने अपनी बाइक घर के बाहर खड़ी कर दी। इसके बाद दीपक मकान के अंदर चले गए। शाम करीब आठ बजे दीपक जब घर से बाहर आए तो उन्हें अपनी बाइक वहां से गायब मिली। बाइक चोरी की यह वारदात घर पर लगे सीसीटीवी कैमरे में रिकार्ड हो गई। दीपक ने बताया कि उन्होंने बाइक चोरी की इस घटना की जानकारी 112 नंबर पर फोन करके तुरंत पुलिस को दी। कुछ समय बाद 112 नंबर की पुलिस की एक गाड़ी मौके पर पहुंची और पुलिसकर्मियों ने पीड़ित दीपक को थाने जाकर बाइक चोरी के संबंध में रिपोर्ट दर्ज कराने की सलाह दी।
रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए पीड़ित काटता रहा मुरादनगर पुलिस के चक्कर :
दीपक सरना ने बताया कि वह 6 फरवरी को मुरादनगर थाने पहुंचे और उन्होंने बाइक चोरी होने के संबंध में पुलिस को तहरीर देते हुए चोरी की यह वारदात घर पर लगे सीसीटीवी कैमरे में रिकार्ड हो जाने की बात बताई। आरोप है कि पुलिस ने पीड़ित दीपक को आॅन लाइन रिपोर्ट दर्ज कराने की सलाह देते हुए वापस लौटा दिया। पीड़ित पिछले 13 दिन से अपनी बाइक चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए स्थानीय पुलिस चैकी एवं थाने के चक्कर काटता रहा, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।
चोरी हुई बाइक का पुलिस ने काटा चालान :
दीपक सरना ने बताया कि 16 फरवरी को उनके मोबाइल पर चोरी हुई बाइक का 500 रूपए चालान काटे जाने के संबंध में मैसेज आया। बाइक चालान का यह मैसेज बाइक चोरी हो जाने के 11 दिन बाद 16 फरवरी की दोपहर 3 बजकर 53 मिनट पर आया था।
चोरी हुई बाइक का चालान काटे जाने के बाद हरकत में आई मुरादनगर पुलिस :


दीपक ने बताया कि वह 19 फरवरी को मुरादनगर थाने पहुंचे और पुलिस को मोबाइल पर आए चोरी हुई बाइक के चालान काटे जाने के संबंध में मैसेज दिखाया। चालान का मैसेज देखकर मुरादनगर थाना पुलिस हरकत में आती है और पीड़ित युवक से बाइक चोरी की तहरीर लेकर रिपोर्ट दर्ज करती है।
पुलिस की लापरवाही आई सामने :
पीड़ित दीपक सरना का कहना है कि पुलिस अगर समय रहते उनकी बाइक चोरी की रिपोर्ट दर्ज कर लेती तो चालान काटते समय बाइक चोर पकड़ा जाता और उनकी चोरी हुई बाइक बरामद हो सकती थी। पीड़ित दीपक ने मुरादनगर पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है।
अधिकारी कथन :
मामला संज्ञान में आया है। जांच कराकर उचित कार्रवाई की जाएगी।
विवेक यादव, डीसीपी ग्रामीण गाजियाबाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *