युवक की आत्महत्या के मामले में पत्नी सहित पांच लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज

गाजियाबाद, कस्बा मसूरी में सात महीने पहले युवक द्वारा आत्महत्या करने के मामले में कोर्ट ने संज्ञान लेते हुए मसूरी थाना पुलिस को मृतक युवक की पत्नी सहित ससुराल पक्ष के पांच लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने की रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश दिए हैं। पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर रिपोर्ट दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।
कस्बा मसूरी निवासी रामनिवास ने बताया कि उनके पुत्र गुड्डू की शादी लोनी के गांव जावली निवासी कोमल के साथ हुई थी। आरोप है कि कोमल उनके पुत्र गुड्डू व परिवार के अन्य सदस्यों के साथ आएदिन झगड़ा व गृह कलेश रखती थी। जिस कारण उनका पुत्र गुड्डू मानसिक रूप से परेशान रहने लगा। दो संतान हो जाने के बाद भी कोमल के व्यवहार में कोई बदलाव नहीं आया। रामनिवास ने बताया कि कोमल व उसके मायके वाले उनके पुत्र गुड्डू पर परिवार से अलग रहने का दवाब बनाते थे। बात नहीं मानने पर गुड्डू की पत्नी कोमल बच्चों को साथ लेकर अपने मायके चली गई। आरोप है कि महिला व उसके मायके वाले फोन पर आएदिन गुड्डू के साथ गाली-गलौज करते हुए उसे झूठे मुकदमों में फंसाने की धमकी देते हुए प्रताड़ित कर रहे थे। जिसके चलते गत 5 मई 2023 को गुड्डू ने अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पीड़ित पिता ने बताया कि उनके पुत्र की मौत के कुछ दिन बाद उसके कमरे से उन्हें गुड्डू द्वारा लिखा गया सोसाइड नोट मिला। जिसमें उसने अपनी मौत के लिए अपनी पत्नी व उसके मायके वालों को जिम्मेदार ठहराया था। पीड़ित पिता ने इस संबंध में मसूरी थाने में शिकायत कर न्याय की गुहार लगाई, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। जिसके बाद मृतक के परिजनों ने न्यायालय की शरण ली। कोर्ट ने मामले का संज्ञान लेते हुए मसूरी थाना पुलिस को रिपोर्ट दर्ज कर जांच के आदेश दिए हैं। इस बारे में एसीपी मसूरी नरेश कुमार ने बताया कि पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर कोमल, सुनीता, धर्मवीर, परवीन व मंजू के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। एसीपी ने बताया कि जांच के बाद आगे के वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *