दिल्ली जा रहे किसानों को ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे पर रोका, हंगामा

Ghaziabad News : दुहाई स्थित ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे से होते हुए किसान आंदोलन में भाग लेने दिल्ली जा रहे किसानों को पुलिस ने एक्सप्रेस वे टोल प्लाजा पर ही रोक लिया। इससे नाराज होकर किसान टोल के पास धरने पर बैठ गए और जमकर हंगामा किया। पुलिस ने किसानों को समझा बुझाकर शांत किया और निवाड़ी थाने ले आई।
एमएसपी की मांग को लेकर किसान संगठनों ने मंगलवार को दिल्ली कूच का एलान कर रखा था। किसानों को दिल्ली जाने से रोकने के लिए पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने जगह-जगह बैरिकेटिंग लगा रखी थी। भाकियू महात्मा टिकैत के जिलाध्यक्ष विनीत त्यागी मंगलवार को सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ ट्रैक्टर ट्रॉली व गाड़ियों में सवार होकर दिल्ली जाने के लिए निकले। जब वह दिल्ली मेरठ मार्ग पर मुरादनगर रेलवे रोड के सामने पहुंचे तो पुलिस ने बेरिकेटिंग लगाकर किसानों को रोकने का प्रयास किया। इस दौरान किसानों व पुलिस के बीच जमकर नोकझोंक हुई। इसके बाद किसान दिल्ली जाने के लिए दुहाई स्थित ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे पर पहुंचे। वहां पहले से ही तैनात भारी पुलिस फोर्स ने उन्हें आगे जाने से रोक दिया। दिल्ली जाने से रोकने पर नाराज किसानों ने नारेबाजी करनी शुरु कर दी। इतना ही नहीं वह दुहाई टोल के पास ही धरने पर बैठ गए। विनीत त्यागी का कहना है कि किसानों का दमन किसी भी कीमत पर बर्दाशत नहीं किया जाएगा। पुलिस ने किसानों को किसी तरह समझा बुझाकर शांत कराया और धरना समाप्त कराया। इसके बाद पुलिस किसानों को निवाड़ी थाने ले आई। किसानों ने निवाड़ी थाने में भी जमकर हंगामा किया।
सतर्क रहा पुलिस प्रशासन :
किसान आंदोलन को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने पूरी तरह से सतर्क रहा। मोदीनगर व मुरादनगर क्षेत्र में जगह जगह सड़कों पर पुलिस तैनात नजर आई। किसानों को दिल्ली जाने से रोकने के लिए पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने जगह-जगह बैरिकेटिंग लगा रखी थी। किसान नेताओं के घर पर भी पुलिस तैनात कर दी गई।
एक्सप्रेस वे और हाइवे पर रहा पुलिस फोस तैनात :
मंगलवार को दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे व ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे पर भी जगह जगह पुलिस फोर्स तैनात रहा। एक्सप्रेस वे पर ट्रैक्टर ट्राली नहीं चढने दी गई। हर वाहन पर नजर रखी जा रही थी। दिल्ली मेरठ हाइवे के अलावा सम्पर्क मार्गो पर भी मंगलवार को विशेष नजर रखी गई। ट्रैक्टर ट्रॉली पर जाने वाले हर व्यक्ति से जानकारी ली जा रही थी।
Posted in R

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *