नगर पंचायत कार्यालय में अधिशासी अधिकारी को बनाया बंधक
: पुलिस ने नगर पंचायत अध्यक्ष के बेटे और भाई को किया गिरफ्तार

Published By : Deepak Sain

आगरा, जनपद आगरा के फतेहाबाद नगर पंचायत कार्यालय में अधिशासी अधिकारी को बंधक बनाए जाने का मामला सामने आया है। अधिशासी अधिकारी व नगर पंचायत अध्यक्ष के बीच बिल भुगतान कराए जाने को लेकर विवाद हुआ था। ईओ की शिकायत पर स्थानीय पुलिस ने नगर पंचायत अध्यक्ष, उनके बेटे व भाई के अलावा चार अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।
बता दें कि फतेहाबाद के नगर पंचायत कार्यालय में डॉ कल्पना बाजपेई बतौर अधिशासी अधिकारी(ईओ) के पद पर तैनात हैं। शुक्रवार को डॉ कल्पना बाजपेई नगर पंचायत परिसर स्थित अपने कार्यालय में बैठी थी। अधिशासी अधिकारी का आरोप है कि उसी दौरान उनके कार्यालय में नगर पंचायत अध्यक्ष आशा देवी, अपने बेटे तरूण व भाई मनीष के साथ पहुंची। जिसके बाद नगर पंचायत अध्यक्ष व उसके परिजनों ने बिना काम पूरा हुए भुगतान किए जाने का ईओ पर दबाव बनाने लगे। ऐसा न करने पर नगर पंचायत अध्यक्ष व उसके परिजनों ने कार्यालय में हंगामा करना शुरू कर दिया। आरोप है कि इस दौरान नगर पंचायत अध्यक्ष आशा देवी, उनके बेटे तरूण व भाई मनीष ने अधिशासी अधिकारी डॉ कल्पना बाजपेई का मोबाइल फोन छीनने की कोशिश की। इतना ही नहीं आरोपितों ने अधिशासी अधिकारी डॉ कल्पना बाजपेई को उनके ही कार्यालय में बंधक बना लिया।
………
पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने कराया ईओ को बंधकमुक्त:
इस घटना के बाद अधिशासी अधिकारी डॉ कल्पना बाजपेई ने फोन करके इसकी सूचना स्थानीय पुलिस व प्रशासन को दी। जिसके बाद तहसीलदार मनोज कुमार पुलिस बल के साथ नगर पंचायत कार्यालय पहुंचे और अधिशासी अधिकारी डॉ कल्पना बाजपेई को बंधकमुक्त कराकर फतेहाबाद थाने ले आए।
………
थाने में भी घंटों हुआ हाई वोल्टेज ड्रामा:
थाना फतेहाबाद थाने में भी नगर पंचायत अध्यक्ष आशा देवी व अधिशासी अधिकारी डॉ कल्पना बाजपेई के बीच घंटों जमकर हंगामा हुआ। दोनों पक्षों की ओर से आरोप-प्रत्यारोप लगाए गए।
………
अधिकारी कथन:
अधिशासी अधिकारी की तहरीर पर नगर पंचायत अध्यक्ष आशा देवी, उनके बेटे तरूण व भाई मनीष के अलावा चार अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर आरोपित तरूण व मनीष को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य आरोपितों को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जायेगा।
आलोक सिंह,
प्रभारी निरीक्षक फतेहाबाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *