कलश यात्रा के बाद 121 फीट ऊंची बजरंगबली की प्रतिमा का हुआ शिलांयास

मुरादनगर, मेरठ रोड स्थित महाकाली पीठ परिसर में बुधवार को 121 फीट ऊंची श्री बजरंगबली की प्रतिमा लगवाने के लिए भूमि पूजन हुआ। जिसमें शहर के सैकड़ों लोगो ने भाग लिया। इससे पूर्व विजय मण्डी स्थित मंदिर से सैंकड़ों महिलाओं ने पीले वस्त्र पहनकर शहर के मुख्य मार्गाे पर कलश यात्रा निकाली। कलश यात्रा को देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए थे।
गाजियाबाद के दूधेश्वर नाथ मंदिर के महंत नारायण गिरी ने बताया कि मेरठ रोड स्थित महाकाली पीठ में बुधवार को जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी के नेतृत्व में 121 फीट ऊंची श्री बजरंगबली की मूर्ती लगवाने के लिए शिलांयास कार्यक्रम हुआ है। उन्होंने बताया कि जब से महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी ने महाकाली पीठ में आकर कायाकल्प करानी शुरू की है, तब से शहर के श्रद्धालुओं में एक आस जगी है। उन्होंने बताया कि श्री बजरंगबली की मूर्ति लगभग 2 वर्ष में बनकर तैयार हो जाएगी। भव्य मूर्ति बनने के बाद भगवान बजरंगबली विराजमान होंगे। यति नरसिंहानंद गिरी ने अपने संबोधन में कहा कि उन्हें मुरादनगर क्षेत्र के लोगों का भरपूर सहयोग मिल रहा है। लोगों के सहयोग से ही श्री बजरंगबली की 121 फीट ऊंची मूर्ति लगवाई जाएगी। इससे पूर्व विजय मंडी स्थित शिव मंदिर से सैंकड़ों की संख्या में पीले वस्त पहनकर कलश, नारियल व चुनरी लेकर महिलाऐं एकत्र हुई। जिसके बाद विजय मंडी से महिलाओं की कलश यात्रा शुरु होकर कस्बा रोड से मेरठ रोड होते हुए महाकाली पीठ स्थित मूर्ती शिलांयास स्थल पर पहुॅची। जहां पर भगवान श्री राम व बजरंगबली के नारों से वातावरण भक्तिमय हो गया। मूर्ती के शिलांयास स्थल पर पूजा करने वालो में पूर्व पालिका उपाध्यक्ष चौ0 सतपाल सिंह, हैंडलूम पावरलूम एसोसिएशन के अध्यक्ष शिव कुमार गुप्ता, सत्य कुमार त्यागी, व्यापारी नेता विष्णु गर्ग, भाजपा नेता अरविंद भारतीय, डॉ0 केशव त्यागी, संजीव त्यागी सहित अनेक लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *